Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Header Ad

Breaking News:

latest

11. देवगुरु बृहस्पति पर्वत पर बनने वाले चिन्ह के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं। Dev guru gets information about the sign formed on the mount of Jupiter.

 1.  गुरु पर्वत पर अगर वर्ग का चिन्ह हो तो व्यक्ति गरीब घर में जन्म लेता है। तो भी अपने प्रयास मेहनत से आगे बढ़ जाता है तथा जीवन को सुखमय बनत...

11. देवगुरु बृहस्पति पर्वत पर बनने वाले चिन्ह के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं। Dev guru gets information about the sign formed on the mount of Jupiter.




 1. गुरु पर्वत पर अगर वर्ग का चिन्ह हो तो व्यक्ति गरीब घर में जन्म लेता है। तो भी अपने प्रयास मेहनत से आगे बढ़ जाता है तथा जीवन को सुखमय बनता है। सदा मान सम्मान मिलता रहता है, सदा रक्षा होती रहती है।

2. गुरु पर्वत पर त्रिभुज का चिन्ह हो तो व्यक्ति सिर्फ अपना ही उन्नति चाहता है, दूसरों के बारे में नहीं सोचता। राजनीति के         क्षेत्र  में भी मान सम्मान पता है अगर  दोष हो तो चाहिए। विष्णु भगवान या गुरु जी का उपासना करनी चाहिए।

3. गुरु पर्वत पर क्रॉस का चिन्ह हो तो व्यक्ति के जीवन में सुख साधनों की कमी कभी नहीं होती है। व्यक्ति की पत्नी, शिक्षित और सुशील होती हैं जीवन की गाड़ी सुख में  व्यतीत होता है। ऐसे व्यक्ति समझदार होते हैं। अपने समझदारी के बदौलत हर काम सफल बना लेते हैं।

4. गुरु पर्वत पर त्रिशूल का चिन्ह हो तो व्यक्ति भाग्यवान होता है, धर्म के प्रति भी झुकाव होता है, समाज में सम्मान भी पाता है। जीवन में कभी किसी चीज़ का अभाव नहीं होता है।

5.गुरु पर्वत पर जाल का चिन्ह हो तो व्यक्ति में  घमंड अधिक होता है, ऐसा व्यक्ति अपने आप को सबो से महान समझते हैं। ऐसा व्यक्ति दयाहीन  होते हैं। समाज में ऐसे व्यक्ति को नाम यश नहीं मिल पाता है। विष्णु भगवान या गुरुजी की उपासना करनी चाहिए।

6.गुरु पर्वत पर वृत्त का चिन्ह व्यक्ति को अपने प्रयास से सफलता के शिखर पर पहुंचाता है।ऐसे व्यक्ति में कभी कभी चिंताजनक स्थिति भी हो जाती है। ऐसे व्यक्ति को पत्नी के मायके से भी लाभ होती है। गुरु जी का उपासना करनी चाहिए इससे शुभता बनी रहती है।

7. गुरु पर्वत पर द्वीप का चीन व्यक्ति में धर्य की कमी करता है किसी भी काम को करने में उच्चाटन आ जाता है। इसका मतलब है किसी भी काम को करने में हो हड़बड़ा जाते हैं। और काम को पूरा किए बगैर छोड़ देता है, निराशा भी दल दल में फसाता चला जाता है। उस समस्या से बचने के लिए विष्णु भगवान का या विष्णु भगवान या गुरूजी या दोनों का उपासना करनी चाहिए जिससे आने वाली समस्याओं से बचा जा सके। जीवन में सुख बना रहे।

IN ENGLISH 

1. If there is a sign of  Square on the mount of Jupiter, then the person is born in a poor house. Even then, his efforts go ahead with hard work and life becomes happy. There is always respect and respect and there is always protection.

2. If there is a sign of a triangle on the mount of Jupiter, then the person wants only his own progress, does not think about others. Even in the field of politics, respect is known, if there is a fault then it should be. Lord Vishnu or Guru ji should be worshipped.

3. If there is a sign of a cross on the mount of Jupiter, then there is never a shortage of happiness and means in the life of a person. A man's wife is educated and well-mannered, the vehicle of life is spent in happiness. Such persons are intelligent. Due to his intelligence, he makes every work successful.

4. If there is a sign of trident [TRISHUL] on the mount of Guru, then the person becomes lucky, has inclination towards religion, also gets respect in the society. Nothing is ever lacking in life.

5. If there is a sign of a net on the mount of Guru, then there is more pride in the person, such a person considers himself to be the greatest of all. Such a person is merciless. Such a person does not get name and fame in the society. One should worship Lord Vishnu or Guruji.

6. The sign of the circle on the mount of Jupiter takes a person to the pinnacle of success with his efforts. Sometimes a worrying situation also arises in such a person. Such a person also benefits from wife's maternal uncle. One should worship Guru ji, it keeps auspiciousness.

7. The China of the island on the mount of Guru makes a person lack of patience, there is an exaltation in doing any work. This means that in doing any work, you get flustered. And leaves without completing the work, despair also goes on getting trapped in the team. To avoid that problem, worship of Lord Vishnu or Lord Vishnu or Guruji or both should be done so that the coming problems can be avoided. Have happiness in life.

कोई टिप्पणी नहीं